Ata Ki Mathri Recipe - Learn How To Make Ata Ki Mathri

October 8th, 2017

Ata Ki Mathri

Mathris are an all time favorite snack item with evening tea. These Ata Ki Mathris are more relished with spicy and tangy aam ka achaar. They are a tasty snack for satisfying sudden hunger pangs and for carrying along on long tours. Prepare these Ata Ki Mathris easily with the detailed recipe and step by step photos given below:

Preparation Time: 5 minutes

Cooking Time: 30 minutes

Ingredients for making Ata Ki Mathri / सामग्री:

  • Whole Wheat Flour - 1 big cup; (गेहूं का आटा)
  • All Purpose Flour - 1 small cup; (मैदा)
  • Gram Flour - 1 small cup; (बेसन)
  • Turmeric Powder - 1/2 tea spoon
  • Onion Seeds - 1/2 tea spoon
  • Salt as per taste
  • Refined Oil - as per requirement for making dough and frying the mathris
  • Water - as per requirement for making dough

Procedure for making Ata Ki Mathri:

  1. In a big plate take whole wheat flour, all purpose flour and gram flour together.
  2. Now add salt as per taste, turmeric powder and onion seeds to it.
  3. Then mix the dry ingredients together nicely and then add 4 table spoon refined oil to it.
  4. Mix the oil with the dry ingredients nicely by crumbling it with hands. Then take some mixture in one hand and check if the flour mixture begins to bind.
  5. Then start adding water slowly to the mixture to knead a hard dough of the flour mixture. Kindly note, that a hard dough is required for making mathri. If the dough is soft then the mathri will swell like poori while frying and will becom soft and not crispy.
  6. When the dough is ready then prepare small balls of it of equal sizes of the dough.
  7. Now take one ball and roll it until smooth and then press it to flatten it with your hands (as shown in the image below.) 
  8. Then use a knife or fork to put cut marks on the flatten mathri (as shown in the image below) to prevent the mathri from swelling like poori while frying. Prepare all mathris in the same way.
  9. Now take a thick based kadhai and heat some oil in a kadhai. Lower the flame to the lowest level when the oil is completely heated. (The amount of oil should be enough so that the mathris are completely submerged in it while frying.)
  10. Then after 1-2 minutes take 3-4 mathris and put them into the hot oil carefully for frying. Allow the mathris to fry slowly over low flame only.
  11. Fry the mathris till they turn crispy golden on one side and then flip them carefully to fry in the same way on the other side.
  12. When the mathris turn nice crispy golden on both sides then transfer them to a plate covered with tissue paper. Fry the remaining mathris in the same way. These mathris can be served hot with a spicy and tangy mango pickle and hot cup of tea. They can also be made in large amounts and then cooled to be stored as ready to eat, home-made snack for a month in air tight jars. 

आटे की मठरी बनाने की प्रक्रिया:

  1. एक बड़ी थाली में गेहूं का आटा, मैदा और बेसन को एक साथ लेकर, अपने हाथों से अच्छे से मिलाएं।
  2. अब इसमें स्वाद के अनुसार नमक, हल्दी पाउडर और मंगरैल (या कलौंजी) जोड़ें।
  3. फिर सूखी सामग्री को अच्छी तरह अपने हाथों से मिलाएं और फिर इसमें 4 बड़ा चम्मच रिफाइंड तेल जोड़ें।
  4. सूखी सामग्री को तेल के साथ अच्छी तरह से हाथों से मिलाएं। फिर मुट्ठी में थोड़ा मिश्रण लें और दबाकर जांचे कि आटे का मिश्रण बंधना शुरू होता है या नहीं।
  5. फिर सूखे मिश्रण में धीरे-धीरे पानी से जोड़ना शुरु करें और सख्त आटा गूंधना शुरू करें। कृपया ध्यान दें, अच्छी खास्ता मठरी बनाने के लिए एक सख्त आटा की आवश्यकता होती है। अगर आटा नरम है तो मठरी, पूरी की तरह फूल जाएगी और खस्ता नहीं होगी।
  6. आटा तैयार होने पर उसकी बराबर आकारों की छोटी लोई तैयार करें।
  7. अब एक लोई लें और चिकना करें। फिर इसे अपने हाथों से मठरी की तरह चपटा करने के लिए दबाएं (जैसा कि नीचे की छवि में दिखाया गया है।)
  8. फिर एक चाकू या कांटे के उपयोग से चपटी मठरी पर कट के निशान लगाएं (जैसा कि नीचे दी गई छवि में दिखाया गया है)। ऐसा करने मठरी को तलते समय फूलेगी नहीं। इसी तरह से सभी मठरी तैयार करें।
  9. अब एक मोटे तले की कढ़ाई लें और इसमें रिफाइंड तेल डालकर गरम करें। जब तेल पूरी तरह से गरम हो जाए है तो आँच को कम करें। (तेल की मात्रा पर्याप्त होनी चाहिए जिस्से कि तलते समय मठरी पूरी तरह से तेल में डूबी हुई हों।)
  10. फिर 1-2 मिनट के बाद 3-4 मठरी लें और उन्हें ध्यान से गरम तेल में डालकर तलने दें। मठरी को धीरे-धीरे कम आँच पर तलने दें।
  11. मठरी को एक तरफ से खस्ता सुनहरा होने तक भूनें और फिर दूसरी तरफ उसी तरह तलने के लिए ध्यान से पलट दें।
  12. जब मठरी दोनों तरफ पर अच्छे से खस्ता सुनहरा होजाएं तो उन्हें कढ़ाई से निकाल कर टिशू पेपर के साथ कवर की गई एक प्लेट में रखें। उसी तरह शेष मठरी को तल लें। फिर इन मठरी को मसालेदार आम के आचार और गरम चाय परोसें। इन्हें बड़ी मात्रा में भी बनाया जा सकता है और ठंडा करके एक एयर-टाइट जार में बाद में खाने के लिए रख सकते हैं। य़ह मठरी आराम से एक महीने तक खाई ज सकती हैं।

Ata Ki Mathri

 

ABOUT THE AUTHOR

Renu Srivastava

Cooking with heart and soul for her family for over 30 years, now she is here to share her recipes with the world. All her life as a homemaker to help her husband and kids achieve success in their respective fields, now she has started this blog to do something for herself and pursue further her passion for cooking.

SHARE YOUR FEEDBACK
Copyright © Lakshmi Recipes. Powered By WriterBabu. All rights reserved.